प्रत्यय किसे कहते हैं उदाहरण सहित समझाइए हिंदी में परिभाषा — Pratyay kise kahate hain in hindi

प्रत्यय किसे कहते हैं | प्रत्यय की परिभाषा | प्रत्यय शब्द का अर्थ हिन्दी में

किसे कहें प्रत्यय परिभाषा: Pratyay kise kahate hain ऐसे शब्द जो दूसरे शब्दों के अन्त में जुड़कर, अपनी प्रकृति के अनुसार, शब्द के अर्थ में परिवर्तन कर देते हैं, उन्हें प्रत्यय कहते हैं।    

हां तो आपको इसकी परिभाषा अच्छे से समझ आ गई होगी एवं आगे लेख में हम उनके बारे में अन्य जानकारी एवं उदाहरण सहित आपको लेख में समझने वाले है लेख पूरा पढ़ें! 
प्रत्यय किसे कहते हैं | प्रत्यय की परिभाषा | प्रत्यय शब्द का अर्थ हिन्दी में: pratyay kise kahate hain

प्रत्यय शब्द का अर्थ

प्रत्यय शब्द दो शब्दों (प्रति + अय) से मिलकर बना है। प्रति का अर्थ होता हैैैै– साथ में, पर बाद में और अय का अर्थ है– चलने वाला। इसलिए प्रत्यय का अर्थ हुआ साथ में पर बाद में चलने वाला।    

जिन शब्दों का स्वतंत्र अस्तित्व नहीं होता है वे किसी शब्द के पीछे लगकर उसके अर्थ में परिवर्तन कर देते हैं। प्रत्यय होते हैं।



प्रत्यय के बारे में अन्य जानकारी
  1] प्रत्यय अविकारी शब्दांश होते हैं जो शब्दों के बाद में जोड़े जाते है।
  2]इस का अपना अर्थ नहीं होता और न ही इनका कोई स्वतंत्र अस्तित्व होता है।
  3]कभी कभी इसे लगाने से अर्थ में कोई बदलाव नहीं होता है।
  4]प्रत्यय लगने पर शब्द में संधि नहीं होती बल्कि अंतिम वर्ण में मिलने वाले प्रत्यय में स्वर की मात्रा लग जाएगी। लेकिन व्यंजन होने पर वह यथावत रहता है।

Read Also:–

   • उपसर्ग किसे कहते हैं? उपसर्ग की परिभाषा और 50+ उदाहरण

   • सर्वनाम किसे कहते हैं? सर्वनाम के भेद उदाहरण सहित

प्रत्यय के लिए कुछ उदाहरण 
नीचे मैंने प्रत्यय के कुछ उदाहरण दिए है जिसमें पहले शब्द एवं फिर प्रत्यय = में मिलकर बनाने वाला शब्द बताया है।
शब्द   +  प्रत्यय = मिलकर बना शब्द -
  • समाज  +  इक = सामाजिक
  • सुगंध  + इत = सुगंधित
  • नाटक  + कार =नाटककार
  • होन  + हार = होनहार
  • भूल  + अक्कड = भुलक्कड
  • मीठा  + आस = मिठास
  • बड़ा  + आई = बडाई
  • टिक  + आऊ = टिकाऊ /
  • बिक  + आऊ = बिकाऊ
  • लोहा  + आर = लुहार
  • बल  +  वान = बलवान
  • चालाक  +  ई = चालाकी
  • प्रति  +  याँ = प्रतियाँ
  • भाषा  +  ओं = भाषाओं
  • शब्द  +  ओं = शब्दों
  • वाक्य  +  ओं = वाक्यों
  • ज्ञान  +  ई = ज्ञानी
  • पण्डित  +  आई = पण्डिताई/
  • कार्य  +  ओं = कार्यों
  • नदी  +  याँ = नदियाँ
  • उदार  +  ता = उदारता
  • सफल  +  ता = सफलता
  • लेन  + दार = लेनदार
  • सुत  + अक्कड = सुतक्कड़
  • दया  + लु = दयालु
  • घट  +  इया = घटिया
  • धन  +  वान = धनवान
  • विद्या  +  वान = विद्वान
  • गाडी  + वाला = गाड़ीवाला


Read Also:– • उपसर्ग किसे कहते हैं? उपसर्ग की परिभाषा और 50+ उदाहरण


Read Also:–
     • हिंदी वर्णमाला क्या है

लेख में बताई गई जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया कमेंट अवश्य करें और शेयर करे ताकि हमें आपकी राय मिल सके और हां प्रत्यय किसे कहते हैं | प्रत्यय की परिभाषा | प्रत्यय शब्द का अर्थ हिन्दी में जैसे अन्य लेख में लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें या मुख्य पृष्ठ पर जाएं।


Comments