विशेषण किसे कहते हैं? 5 भेद » [Visheshan Kise Kahate Hain]

विशेषण किसे कहते हैं?
Visheshan ki paribhasha- “वे शब्द जो Sangya या Sarvanam की विशेषता बताएं विशेषण होते हैं।” या संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बताने वाले शब्दों को विशेषण कहते (visheshan kahate hain) हैंं। 
Adjectives in Hindi - विशेषण किसे कहते हैं / Visheshan Kise Kahate Hain

विशेषण किसे कहते हैं? विशेषण के भेद कितने प्रकार के होते हैं. विशेषण की परिभाषा हिंदी में 

आज के इस लेख में मैं दोस्तों आपके लिए विशेषण का एक पूरा लेख लेकर आया हूं| जिसमें मैंने बहुत सारे Visheshan को इस लेख Hindi में शामिल किया है। जो नीचे क्रमबद्ध तरीके से समझाएं गए हैं| जो कि बहुत महत्वपूर्ण विशेषण है इसे आप अवश्य पढ़ें।   

विशेषण किसे कहते हैं? विशेषण के भेद कितने प्रकार के होते हैं। विशेषण की परिभाषा हिंदी में
 

विशेषण किसे कहते हैं | परिभाषा - Visheshan Kise Kahate Hain

वे शब्द जो Sangya या Sarvanam की विशेषता बताएं विशेषण होते हैं.

या Adjectives in Hindi

संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बताने वाले शब्दों को विशेषण कहते हैं|

जैसे कि
अच्छा विद्यालय, तीन दोस्त, नई दुकान इत्यादि।

इन वाक्यों में अच्छा, तीन और नई शब्द Visheshan है। जो विशेष्य की विशेषता बता रहे हैं। 

विशेषण के भेद / प्रकार – [Types Adjectives in Hindi]

हिंदी में विशेषण के पांच भेद / प्रकार होते हैं। 
     • गुणवाचक,
     • परिमाणवाचक,
     • संख्यावाचक,
     • सार्वनामिक,
     • व्यक्तिवाचक विशेषण।
विशेषण के भेद / प्रकार – [Types Adjectives in Hindi] हिंदी में विशेषण के पांच भेद / प्रकार होते हैं।



सभी प्रकार के विशेषण विस्तार पूर्वक अध्ययन करें!
1] गुणवाचक विशेषण 
       वह विशेषण जिससे किसी संज्ञा या सर्वनाम का गुण प्रकट होता हैं। उसको गुणवाचक विशेषण कहते है। 
जैसे कि- 
    गुण :- अच्छा,चालक, बुद्धिमान आदि,
    दोष :-बुरा, गंदा, दुष्ट आदि,
    रंग :- काला, लाल, पीला आदि,
    आकार :- लंबा, छोटा, गोल, पतला आदि, 
    अवस्था :- बीमार, घायल, ठोस आदि,
    स्थान :- भारतीय, बंगाली आदि है।


2] परिमाणवाचक विशेषण 
      जिस शब्द से किसी चीज की परिमाण का बोध होता है। वे शब्द परिमाणवाचक विशेषण कहलाते हैं। 
जैसे
   • ज्यादा पानी, बहुत दूध  यह भी पढ़ें: कारक किसे कहते हैं? परिभाषा
  • यहां पर ज्यादा और बहुत यह दोनों विशेषण हैं। जो क्रमानुसार पानी और दूध के परिमाण को समझा रहा हैं।

3] संख्यावाचक विशेषण 
      जिन शब्द संख्या का बोध होता है। उसे संख्यावाचक विशेषण कहते हैं। 
जैसे 
  • एक पेन, 
  • दो दोस्त
  • तीन मेज।
यहां पर एक, दो और तीन यह तीन विशेषण है। जो क्रमशः पेन, दोस्त और मेज की संख्या का बोध करा रहे हैं।

4] सार्वनामिक विशेषण 
      ऐसे सर्वनाम शब्द जो संज्ञा से पहले लगकर उस संज्ञा शब्द की विशेषण की तरह विशेषता बताते हैं। उन शब्दों को सार्वनामिक विशेषण कहते हैं।
        ये शब्द संज्ञा के लिए विशेषण का काम करते हैं। 
जैसे कि 
   • मेरा पेन , 
   • कोई लड़का , 
   • किसी का किला
   • वह लड़का , 
   • वह कार , 
   • वह किताब
   • वह औरत आदि। 
   सार्वनामिक विशेषण को (संकेतवाचक विशेषण) भी कहते हैं।



5] व्यक्तिवाचक विशेषण 
      व्यक्तिवाचक संज्ञा शब्दों से मिलकर बने विशेषण को ही व्यक्तिवाचक विशेषण कहते हैं। 
जैसे कि 
   • वह राहुल ही है,
   • जो आज वहां खड़ा था।
   • राम हिंदी भाषा बोलता हैं।



     -------♥️-------

क्रिया विशेषण 
    "वे शब्द जो क्रिया की विशेषता बताते हैं, ऐसे शब्दों को हम क्रिया विशेषण कहते हैं।
 या
 "जिन शब्दों से क्रिया की विशेषता का पता चलता है, उन्हें क्रिया-विशेषण कहते हैं।"
          जैस की: 
1] राजीव धीरे - धीरे दौड़ता है।
यह बाकी में वाक्य में "दौड़ता" क्रिया है और "धीरे - धीरे" उसकी विशेषता बता रहा है। इसलिए धीरे-धीरे शब्द को हम क्रिया विशेषण कहेंगे।
2] संजय तेज लिखता है।
         इस वाक्य में चीता लिखता रहा है, और उसके दौड़ने की विशेषता है। उसका “तेज लिखता” यह शब्द क्रियाविशेषण [Kriya Visheshan] शब्द है। kise kahate hain.



यदि क्रिया विशेषण के भेदों की बात की जाए तो
         इसके सभी प्रकार के भेदों को मैंने नीचे क्रमशः दिया है एवं उन्हें आगे विस्तार से भी बताया जाएगा जिससे आपको इन्हीं विस्तृत वर्णन सहित सूचना मिलें!
         • स्थानवाचक,
         • रीतिवाचक,
         • कालवाचक,
         • परिमाणवाचक।
1) स्थानवाचक क्रिया विशेषण
          “जो अविकारी शब्द किसी क्रिया के संपादित होने के स्थान का बोध कराते हैं, उन शब्दों की स्थानवाचक क्रियाविशेषण [Kriya Visheshan] कहते हैं।”
 जैसे– कहाँ, जहाँ, वहां, यहाँ, सामने, नीचे, ऊपर, आगे, भीतर, बाहर आदि ।
उदाहरण:
रंजन वहाँ बाइक चला रहा हैं
           ऊपर के वाक्य में वहाँ चला क्रिया के व्यापार - स्थान का बोध करा रही है।

2) रीतिवाचक क्रिया विशेषण
Ritivachak kriya visheshan kise kahate hain:– “जो शब्द किसी क्रिया के करने के तरीके/रीति का बोध कराए, उन शब्दों को रीतिवाचक क्रिया विशेषण कहते है।” जैसे– जल्दी, धीरे-धीरे, रोज़, आदि।

3) कालवाचक क्रिया विशेषण
           "जो अविकारी शब्द किसी क्रिया के होने का समय बतलाते हैं, उन शब्दों को कालवाचक क्रिया विशेषण कहते हैं।" जैसे– परसों, कभी, अब तक, पीछे, पहले, अभी–अभी, बार - बार।

4) परिमाणवाचक क्रिया विशेषण
            “जो अविकारी शब्द किसी क्रिया के परिमाण अथवा निश्चित संख्या का बोध कराते हैं, उन शब्दों को परिमाणवाचक क्रिया विशेषण कहते हैं।”

 जैसे– बहुत, अधिक, अधिकाधिक पूर्णतया, सर्वथा, कुछ,  यथेष्ट, इतना, उतना, एक-एक करके, कितना, थोड़ा-थोड़ा, थोड़ा, काफ़ी, केवल, तिल-तिल आदि।



विशेषण किसे कहते हैं? विशेषण के भेद कितने प्रकार के होते हैं। विशेषण की परिभाषा हिंदी में इससे संबंधित कमेंट करें!

ये भी पढ़ें:

हिंदी व्याकरण Complete Hindi Grammar:-

भाषा Bhasha,   वर्णमाला Varnmala,   वर्ण Varn,  शब्द Shabd,     वाक्य Vakya

    लिंग Ling,     कारक Karak,    अलंकार Alankar,       काल kaal,

उपसर्ग Upsarg,     क्रिया विशेषण Kriya Visheshan,    संधि Sandhi,     प्रत्यय Pratyay,       वचन Vachan,

------------♦------------

Read More Posts 

कारक किसे कहते हैं? परिभाषा

Karak in Hindi Grammar कारक की परिभाषा , भेद और उदाहरण- "कारक उसे कहते हैं, जो Vakya में आये संज्ञा आदि शब्दों का क्रिया के साथ संबंध बताती ...

सर्वनाम किसे कहते हैं? परिभाषा एवं भेद | उदहारण सहित

Sarvanam kise kahate hain. जिन शब्दों का इस्तेमाल संज्ञा शब्द के स्थान पर प्रयुक्त होता है। उन शब्दों को ...

विशेषण किसे कहते हैं? प्रकार | भेद | परिभाषा

Visheshan kise kahate hain. वे शब्द जो Sangya या Sarvanam की विशेषता बताएं विशेषण होते हैं...

लिंग किसे कहते हैं? लिंग कितने होते है

Ling kise kahate hain. जिस चिह्न से यह बोध होता हो कि अमुक शब्द पुरुष जाति का है या स्त्री जाति का है। उस चिन्ह या Shabd की ही Ling ...

प्रत्यय किसे कहते हैं? उदाहरण

Pratyay Kise Kahate Hain. ऐसे शब्द जो दूसरे शब्दों के अन्त में जुड़कर, अपनी प्रकृति के अनुसार, शब्द के अर्थ में परिवर्तन कर देते हैं, प्रत्यय...

समास किसे कहते हैं? समास के भेद | प्रकार | उदहारण सहित | परिभाषा

Samas kise kahate hain. समास का शाब्दिक मतलब है संक्षिप्तीकरण। दो या दो से अधिक Shabd मिलकर एक नया एवं सार्थक शब्द की रचना...

----❤️----



Comments