Pronoun In Hindi | Definition & Type

 Pronoun In Hindi. It's Definition and Type 

Pronoun In Hindi | Definition and Type
Pronoun In Hindi | Definition

सर्वनाम की परिभाषा: "वे शब्द है, जिन शब्दों का इस्तेमाल संज्ञा वाले शब्द के स्थान पर किया जाता हैं, उन शब्दों को सर्वनाम कहते हैं।

या

"संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त होने वाले शब्द सर्वनाम कहलाते हैं।" Pronoun In Hindi


जैसे कि:

मैं, तू, वह, यह, हम, तुम इत्यादि सर्वनाम शब्द (Pronoun Words) हैं।


Kanta pradesh Guru के अनुसार सर्वनाम (Pronoun) - उस विकारी शब्द को कहते हैं, जो पूर्वापर संबंध से किसी भी संज्ञा के बदले में आता है। जैसे कि, मैं (बोलनेवाला), तू (सुनने-वाला), यह (निकट-वर्ती वस्तु), वह (दूरवर्ती-वस्तु)

"वाक्य में जिस शब्द का प्रयोग संज्ञा के बदले में होता है, उसे सर्वनाम कहते हैं।"


सर्वनाम शब्द का अर्थ है- सब का नाम।


संज्ञा जहाँ केवल उसी नाम का बोध कराती है, जिसका वह नाम है। वहाँ sarvnam से केवल एक के ही Naam का नहीं। सभी के नाम का बोध होता है।


जैसे कि रेखा कहने से केवल इस नाम लड़की का बोध होगा किन्तु यदि Meera, Seema, Rahul, Vijay सभी अपने लिए मैं का प्रयोग करते हैं, तो मैं इन सबका नाम होगा। 


इसी तरह बोलने-वाले अनेक नामों के बदले तुम या आप और सुनने-वाले अनेक नामों के बदले वह या वे का Istemal होता है।


हिंदी भाषा (Hindi Language) में मूल सर्वनाम (Pronoun in Hindi) ग्यारह हैं, जैसे:- [मैं, तू, आप, यह, वह, जो, सो, कौन, क्या, कोई, कुछ]


सर्वनाम के भेद या प्रकार (Type Of Pronoun In Hindi)

प्रयोग की अनुसार सर्वनाम (Pronoun) के छ: प्रकार हैं!

सर्वनाम pronoun के सभी प्रकार को मैंने नीचे बताए है ओर लेख में इन्हे विस्तार से भी बताया गया हैं अवश्य पढ़ें!

     1. पुरूषवाचक सर्वनाम [मैं, तू, वह, हम, मैंने],

     2. निश्चयवाचक [यह, वह],

     3. निजवाचक [आप],

     4. प्रश्नवाचक [कौन, क्या],

     5. संबंधवाचक [जो, सो],

     6. अनिश्चयवाचक [कोई, कुछ]।

Type Of Pronoun In Hindi

सर्वनाम के भेद/प्रकार विस्तार से (Pronoun type in detail in hindi)

पुरुषवाचक सर्वनाम 

जिन Sarvanam शब्दों का प्रयोग वक्ता द्वारा अपने लिए या दुसरो के लिए किया जाता है, उस को पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं।

जैसे:- मैं, हम (वक्ता द्वारा अपने लिए), तुम तथा आप (सुनने वाले के लिए) और यह, वह, ये, वे (किसी और या तीसरे के बारे में बात करने के लिए) आदि।

पुरुषवाचक सर्वनाम के उदाहरण

मैं हॉकी खेलना चाहता हूँ।

मैं जाना चाहती हूँ।

आप कहते हैं तो राहुल अच्छा होगा।

तुम जब तक आये तब तक वह चली गई।

आज-कल आप क्या करते हो।

वह पड़ाई में आगे है।


पुरुषवाचक सर्वनाम के भी तीन भेद होते हैं जो कि नीचे दिए हैं.

1] उत्तमपुरुष, 

2] मध्यम पुरुष एवं 

3] अन्य पुरुष।


उत्तम-पुरुष: जिन शब्दों का Upyog बोलने वाला अपने लिए करता है। उत्तम-पुरुष में मैं, मेरा, मेरी, मेरे, मुझे, मुझको, हम, हमें, हमको, हमारे, हमारी, हमारा जैसे शब्द आते हैं।

उदाहरण: मैं हॉकी खेलता हूँ।

मध्यम-पुरुष- जिन शब्दों का Upyog सुनने वाले के लिए किया जाता है। उन्हें मध्यम-पुरुष सर्वनाम कहते हैं। इसमें तू, तुझको, तुझे, तेरे, तेरी, तेरा, तुम्हे, तुमको, तुम, तुम्हारे, तुम्हारी, तुम्हारा, आप जैसे शब्द आते हैं।

उदाहरण: तुम बहुत अच्छे हो।

अन्य-पुरुष- जिन शब्दों का उपयोग किसी तीसरे व्यक्ति के बारे में बात करने के लिए होता है।उस अन्य-पुरुष सर्वनाम कहेंगे। इनमे यह, वह, ये, वे जैसे आते हैं।

• अव्यय किसे कहते हैं| अव्यय शब्द के भेद

• वर्णमाला किसे कहते हैं एवं इसकी परिभाषा

निश्चय-वाचक सर्वनाम 

जिन सर्वनाम शब्दों से किसी वस्तु , व्यक्ति Or स्थान की निश्चितता का बोध होता है। उनको निश्चयवाचक-सर्वनाम कहेंगे।

जैसे कि - यह, वह आदि।

उदाहरण:

1. यह बस मेरी है।

2. वह बस उनकी है।

3. वे फ्रेंड हैं।

4. यह मेरा बेग है वह तुम्हारा है।

5. यह एक पेड़ है।

ऊपर के वाक्यों में यह, वह, ये, वे आदि का उपयोग वस्तु, व्यक्ति आदि की निश्चितता का बोध कराने के लिए किया गया हैं। इसलिए ये शब्द-निश्चयवाचक सर्वनाम है।


निजवाचक सर्वनाम 

वे शब्दों का प्रयोग वक्ता किसी चीज़ को अपने साथ दर्शाने Ya फिर अपनी बताने के लिए करता है, उसे निजवाचक सर्वनाम कहेंगे।

उदाहरण:

मैं अपना घर को स्वयं ही खरीद लूँगा।

मैं ट्रेन अपने आप ही सीख लूँगा।

ऊपर के वाक्यों में वक्ता ने अपने स्वयं के लिए स्वयं Or अपने आप शब्दों का प्रयोग कामों को खुद से जोड़ने के लिए किया।


जहाँ आप शब्द का Prayog श्रोता के लिए हो वहाँ यह आदर-सूचक मध्यमपुरुष होता है। और जहाँ आप शब्द का Upyog अपने खुद स्वयं के लिए हो वहाँ निजवाचक होता है।


प्रश्नवाचक सर्वनाम 

जिन शब्दों का उपयोग किसी वस्तु, व्यक्ति आदि के बारे में कोई सवाल पूछने Ya फिर उसके बारे में जानने के लिए किया जाता है, वे शब्दों को प्रश्नवाचक-सर्वनाम कहेंगे।

जैसेकौन, क्या, कब, कहाँ आदि!

प्रश्नवाचक सर्वनाम के उदाहरण नीचे हैं:-

1. तुम-कौन हो?

2. तुम्हें क्या चाहिए?

3. देखो तो कोई आ रहा क्या?

4. आपने क्या देखा है?

ऊपर के वाक्यों में कौन तथा क्या शब्दों का प्रयोग करके किसी व्यक्ति या उस व्यक्ति के बारे में जानने की कोशिश की जा रही हैं! इसलिए यहां प्रश्नवाचकसर्वनाम हैं।


सम्बन्ध-वाचक सर्वनाम 

जिन सर्वनाम शब्दों का उपयोग किसी वस्तु या किसी व्यक्ति का Sambandh बताने के लिए किया जा रहा हो। उन्हें सम्बन्धवाचकसर्वनाम कहेंगे।

जैसे: जो-सो, जैसा-वैसा आदि।

उदाहरण

1. जो सोवेगा सो खोवेगा।

2. जो जागेगा सो पावेगा।

3. जैसाबोओगे वैसा काटोगे।

4. जैसी करनी वैसी भरनी।

ऊपर के वाक्यों में जो-सो व जैसे-वैसे शब्दों का प्रयोग करके किसी वस्तु या किसी व्यक्ति में सम्बन्ध बताया जा रहा हैं! इसलिए यह सम्बन्धवाचक-सर्वनाम शब्द है।


अनिश्चयवाचक सर्वनाम 

जिन सर्वनाम (Pronoun) शब्दों से वस्तु , व्यक्ति , स्थान आदि की निश्चितता का बोध नही होता है वहां अनिश्चयवाचक सर्वनाम हैं।

जैसे: कुछ, कोई आदि।

उदाहरण:

1. मुझे कुछ लेना है

2. मेरे डांस में कुछ कमी है

3. मुझे दुकान से कुछ लाना है

4. कोई यहां से गया

5. मुझे कोई नहीं देखता।

ऊपर के वाक्यों में वक्ता सिर्फ अंदाजा लगा रहा है। लेकिन हमे व्यक्ति की निश्चितता का कोई बोध नहीं हो रहा है। इसलिए कुछ, कोई आदि शब्द अनिश्चय-वाचक सर्वनाम शब्द हैं।


आपको यह लेख कैसा लगा आप हमें कमेंट करके अवश्य बताए या फिर अपने दोस्तों को शेयर करें ताकि हम ऐसे ही सर्वनाम Pronoun In Hindi Definition Type से जुड़े अन्य टॉपिक पर लेख लेट रहें और आप सोशल मीडिया जैसे प्लेटफॉर्म पर फॉलो करें।

यह भी पढ़ें:
     • हिंदी वर्णमाला क्या है


Comments