संज्ञा को कैसे पहचाने, लोगो ने संज्ञा के बारे में क्या पूछा एवं संज्ञा से संबंधित प्रश्न - sangya kaise pahachane

संज्ञा को कैसे पहचाने, लोगो ने संज्ञा के बारे में क्या पूछा एवं संज्ञा से संबंधित प्रश्न - sangya kaise pahachane

संज्ञा को कैसे पहचाने, लोगो ने संज्ञा के बारे में क्या पूछा एवं संज्ञा से संबंधित प्रश्न - sangya kaise pahachane

Sangya को कैसे पहचाने इसकी पहचान क्या होती है!

संज्ञा की पहचान हम शब्दों से लगा सकते है जिसमें संज्ञा शब्द प्राणीवाचक भी हो सकते हैं और अप्राणिवाचक भी हो सकते है। इसके अलावा भी  गणनीय या अगणनीय शब्द भी ही सकते है ।जब हम सभी को विस्तार में पढ़ें तो हमें इसका ज्ञान प्राप्त होता है साथ ही साथ इसमें उदाहरणों को भी कवर करते चलेंगे!

1] प्राणीवाचक संज्ञा शब्द

उस कहेगें जिससे किसे सजीव वस्तु का बोध हो जिसमें प्राण हो, प्राणीवाचक संज्ञा कहते है उदाहरण: लड़की, लड़का, बेल, भैंस, श्याम, सुरेश इत्यादि! सभी में प्राण पाया जाता है इससे यह इस के अन्तर्गत है।

2] अप्राणिवाचक संज्ञा शब्द

उस कहेंगे जिसमें प्राण न हो वह अप्राणिवाचक संज्ञा है! उदाहरण टेबल, पेन, किताब, जूते, पृथ्वी, रेल इत्यादि! सभी शब्दों में प्राण नहीं है यानिकि ये सजीव नहीं है। इसके कारण यह सभी इस के अन्तर्गत है।


3] गणनीय संज्ञा शब्द

उस कहेंगे! जिस व्यक्ति वस्तु, पदार्थ आदि की गणना की जा सकें। उसकी संख्या ज्ञात की जा सकती है ऐसे शब्द को गणनीय संज्ञा शब्द कहेंगे! उदाहरण: पेन, भैंस, पुस्तक, केले, हाथी इत्यादि!


4] अगणनीय संज्ञा शब्द

उन्हें कहेंगे जिस व्यक्ति, वस्तु , पदार्थ आदि की गणना नहीं की जा सकती है। उसकी संख्या ज्ञात नहीं की जा सकें, उन्हें अगणनीय संज्ञा शब्द कहेंगे! उदाहरण: शराब, जल, दुग्ध, मित्रता, प्यार इत्यादि!



आइए अब आपको हम बताते गई की लोग इंटरनेट पर Sangya से बारे में किस किस तरीके से सर्च करते है. और उनके सभी प्रकार के प्रश्नों के जवाब भी बड़ी आसानी से! इस लेख में दिए गए हैं।


संज्ञा से संबंधित:FAQs

Q1. संज्ञा किसे कहते हैं? उसके कितने प्रकार हैं?

Ans. संज्ञा किसे कहें: किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान या भाव के नाम को संज्ञा कहते हैं। इस के पांच प्रकार होते हैं? व्यक्तिवाचक, जातिवाचक, समूहवाचक, द्रव्यवाचक और भाववाचक!

2. संज्ञा की परिभाषा क्या होती है?

Ans. परिभाषा:- किसी व्यक्ति, वस्तु , स्थान या भाव के नाम को sangya kahate hain।

3. जातिवाचक और व्यक्तिवाचक संज्ञा क्या है?

Ans. जातिवाचक संज्ञा:- उसी को कहते हैं जिसका नाम लेने से उस व्यक्ति अथवा पदार्थ की जाति भर का बोध होता है। जैसे घोड़ा, फूल, मनुष्य, किसी धर्म की जाति जैसे गुर्जर आदि।

व्यक्तिवाचक संज्ञा:- जिन शब्दों से किसी खास व्यक्ति, स्थान या वस्तु का बोध हो, उसे व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं। जैसे जयपुर, दिल्ली, भारत, रामायण, अमेरिका, इत्यादि

4. अर्थ के आधार पर संज्ञा के कितने भेद होते हैं?

Ans. अपडेट हो रहा है...



संज्ञा से संबंधित कुछ प्रश्न

1. हरियाली शब्द है।

क) जातिवाचक   

ख) समूहवाचक

ग) व्यक्तिवाचक    

घ) भाववाचक  

उत्तर:- घ) भाववाचक


2. मित्रता भाववाचक संज्ञा किससे है।

क) सर्वनाम                    

ख) क्रिया

ग) जातिवाचक संज्ञा      

घ) व्यक्तिवाचक संज्ञा

उत्तर:- ग) जातिवाचक संज्ञा।


3. व्याकरणाचार्यों ने संज्ञा के कितने भेद बताये हैं।

क) पाँच           

ख) चार

ग) छ:             

घ) तीन

उत्तर:- क) पाँच


4. घी कौन सी संज्ञा है।

क) व्यक्तिवाचक     

ख) भाववाचक

ग) द्रव्यवाचक        

घ) जातिवाचक

उत्तर:- ग) द्रव्यवाचक।


5. अशोक मार्ग है।

क) भाववाचक    

ख) द्रव्यवाचक

ग) जातिवाचक       

घ) व्यक्तिवाचक

उत्तर: घ) व्यक्तिवाचक।


6. जातिवाचक sangya के उदाहरण है।

क) घोड़ा   

ख) गंगा

ग) सभा    

घ) बुढ़ापा

उत्तर:- क) घोड़ा।


7. टाइम्स ऑफ डे दिया है।

क) भाववाचक     

ख) जातिवाचक

ग) समूहवाचक     

घ) व्यक्तिवाचक।

उत्तर:- घ) व्यक्तिवाचक।


8) कबूतर कौन-सी सं-ज्ञा है।

क) समूहवाचक 

ख) व्यक्तिवाचक

ग) जातिवाचक 

घ) भाववाचक

उत्तर:- ग) जातिवाचक


9) बंधुत्व किस प्रकार की sangya

क) व्यक्तिवाचक            

ख) कोई नहीं।

ग) जातिवाचक संज्ञा     

घ) भाववाचक

उत्तर: घ) भाववाचक


10) सभा कौन-सी संज्ञा है

क) व्यक्तिवाचक     

ख) समूहवाचक

ग) द्रव्यवाचक        

घ) जातिवाचक

उत्तर:- ख) समूहवाचक।


लेख कैसा लगता कमेंट करके बताएं?

Comments